गुरु ही देश को सही दिशा दे सकते है - भूरिया

भीनमाल, 14 नवम्बरः  केन्द्रीय जन जातीय कार्य मंत्री कान्तलाल भूरिया ने कहा कि गुरु ही देश को सही दिशा दे सकते है। उन्होने परम पूज्य ज्योतिष सम्राट मूनिप्रवर श्री ऋषभचन्द्रविजयजी म.सा. व्दारा किये जा रहे समाज हित कार्यो की सराहना करते हुए बताया कि जिस प्रकार मोहनखेडा को इन्होंने तपोभूमि बनाया है, उसी प्रकार भीनमाल को भी तपोभूमि बनाने का प्रयास जारी है।

 

श्री भूरिया स्थानीय लक्ष्मी वल्लभ पार्श्वनाथ 72 जिनालय प्रांगण में मूनिप्रवर श्री ऋषभचन्द्रविजयजी म.सा. के 21 दिवसीय मौनआराधना की पूर्णहूति एवं महामंगल पाठ के अवसर पर आयोजित समारोह में मुख्य अतिथी के रुप में बोल रहे थे। उन्होंने भीनमाल की चर्चा करते हुए कहा कि यहां का नाम देश - विदेश में प्रसिध्द है तथा यहां के उद्योगपतियों ने सभी क्षेत्रों में अपना नाम कमाया है।

 

इस पर ज्योतिष सम्राट मुनिप्रवर श्री ऋषभचन्द्रविजय जी म.सा. ने अपने आर्शीवचन देते हुए 72 जिनालय के नव निर्माण के बारे में विस्तार से चर्चा की। उन्होने मौन का महत्व बताते हुए कहा कि आध्यात्मिक साधना में ही शक्ति है मनुष्य भुखा रह कर उपवास कर सकता है परन्तु मौन रखकर चुप रहला बडा मुश्किल कार्य है। उन्होंने क्रोध को झगडे की जड बताते हुए कहा कि मीठे वचन ही मित्रता का प्रतीक है। हमें हमेशा कटू वचन बोलने से बचना चाहिए तथा ज्यादा से ज्यादा मौन धारण कर दूसरो की बात को ध्यान पूर्वक सुनना चाहिए। गुरुदेव ने आगन्तुकों को आशीर्वाद देते हुए कहा की सभी को धार्मिक कार्यो के लिए समय निकाल कर धर्म कार्य करना चाहिए। सभी को समाज में जरुरतमन्दो की सहायता कर भी पुण्य का कार्य करना चाहिए। मुनिराज श्री रजतचंद्रविजय म.सा. ने कहा की गुरुदेव श्री ने स्वाध्याय स्वरुप एवं 72 जिनालय की प्रतिष्ठा भव्यरुप में सानन्द निर्विदन सम्पन्न हो ऐसी कामना की । उन्होने बताया कि यहां मुनिश्री की 27 वीं मौन आराधना है। सभी अतीथियों ने मुनिराज श्री पियूशचद्रविजय म.सा. तथा मुनिराज श्री रजतचन्द्रविजयजी म.सा. के भी दर्शन - वंदन कर आशीर्वाद लिया।

 

इस अवसर पर राज्य के जनजाति क्षेत्रिय विकास मंत्री महेन्द्र मालविय, सार्वजनिक निर्माण विभाग मंत्री प्रमोद जैन भाया, मध्यप्रदेश के विधायक पाजवर्धनसिंह, विधायक प्रताप ग्रेवाल, भीनमाल विधायक पूराराम चौधरी, मध्यप्रदेश के राजगढ के वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक भण्डारी, उद्योगपति प्रकाश राकां, सरपंच संघ के प्रदेशाध्यक्ष जितेन्द्र सेठीया, पूर्व जिला प्रमूख गणपतसिंह सियाणा तथा नारायणसिंह देवल, जिला कलेक्टर के. के. गुप्ता का चातुर्मास आयोजक परिवार की तरफ से बहूमान किया गया।

 

केन्द्रीय जन जातिय कार्य मंत्री कान्तिलाल भूरिया ने चातुमास आयोजक परिवार के किशोरमल लुंकड को साफा पहनाकर अभिवादन किया। मौन व्रत के बाद सबसे पहले गुरुदेव से नमस्कार महामंत्र का श्रवण लाभ विधायक पूराराम चैधरी ने लिया। 72 जिनालय की प्रतिष्ठा को लेकर अग्रीम मनूहार पत्रिका का विमोचन आगन्तूक बन्धूओं एवं लूंकड परिवार के सदस्यों व्दारा किया गया।

 

इस अवसर पर किशोरमल लूंकड, भोजराज शाह, माणकमल भण्डारी, किशोरमल मेहता, पन्नालाल सेठ, भंवरलाल सांलेचा, सुरेश बोहरा, उमराव सेठ, अशोक सेठ, रमेश भूरिया, पी. सी. जैन, उत्तम भाई जैन, राजेश सेठिया, एडवोकेट ललित भण्डारी, भंवरलाल कोमता, डूंगरमल संकलेचा सहित हजारों श्रध्दालू उपस्थित थे। समारोह में भाग लेने के लिए मध्यप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान सहित कई प्रदेशो कि हजारों भावूकों ने यहां पहूंच कर गुरुदेव से आशीर्वाद प्राप्त किया।